उद्धव ठाकरे सरकार महाराष्ट्र में कटवाएगी 5 हज़ार पेड़ बाला साहेब के स्मारक के निर्माण के लिए ?

मुम्बई:- बाला साहेब ठाकरे का स्मारक औरंगाबाद के प्रियदर्शिनी उध्यान में बनाने का प्रस्ताव पहले ही मंजूर किया गया। यदी इस स्मारक का निर्माण करना है तो 5000 पेडों को अवश्य ही काटना पड़ेगा।

मुंबई महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार बनने के बाद आरे कार शेड के कामकाज पर उद्धव ठाकरे सरकार दुवारा रोक लगा दी गई थी, आरे कार शेड पर रोक लगा देने के बाद लोगों की नजर औरंगाबाद के प्रियदर्शिनी उद्यान पर टिकी है, क्योंकि यहाँ बाला साहेब ठाकरे के स्मारक का निर्माण के लिए 5000 पेड़ों को निस्तानबूत करना पड़ेगा, कई बड़े पर्यावरण प्रेमी बड़ी ही बारीकी से नजरे गड़ाये बेठे हैं, वहीँ दुसरी तरफ़ बी जे पी भी सरकार के अगले फेसले का बडी ही बेसब्री से इंतजार कर रही है औरंगाबाद महानगरपालिका में बीजेपी और शिवसेना की सरकार है दो तीन महीने में महानगरपालिका का कार्यकाल खतम होने वाला है, और बाला साहेब ठाकरे के स्मारक को प्रियादर्शिनी उद्यान में बनाने का प्रस्ताव पहले ही मंजूर किया गया था, लेकिन एक बडी समस्या यह है कि जहाँ स्मारक का निर्माण कार्य होना है वहाँ अत्याधिक पेड़ हैं और जब तक पेड़ नहीं कटेंगे तब तक स्मारक का निर्माण नहीं किया जा सकता है, इसलिये स्थानीय और उद्धव ठाकरे सरकार भी बड़ा सोच समझकर कदम बड़ा रही है।

पेड़ों की कटाई को देखते हुए उद्धव ठाकरे सरकार ने आरे शेड पर लगाई थी और मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक आरे काड शेड की पूरी समीक्षा नही हो जाती तब तक हम एक टहनी तक कटने नही देंगे, और उद्धाव सरकार के इस फैसले के बाद सभी पर्यावरण प्रेमियों में खुशी का माहोल है।तो वहीं बीजेपी इस फैसले से नाखुश है, अब औरंगाबाद में स्मारक के निर्माण कार्य के लिए पेड़ों को इतनी बड़ी तादात में काटने पर सभी पर्यावरण प्रेमी और लोगों की नजरें बनी हुई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here