UP मैं नवजात बच्चो की मोत के दोषियों को बचाने ओर कमीशन के लिए किया गया ”मानव निर्मित नरसंहार”

New Delhi: डॉक्टर कफील खान ने गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में अगस्त 2017 को हुई 60 से अधिक बच्चों की मौत को मंगलवार को इस त्रासदी को 10 प्रतिशत कमीशन नहीं मिलने से हुआ ‘नरसंहार बताते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को निशाना बनाया

बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में वर्ष 2017 में 10 अगस्त की रात को हुई 30 बच्चों की मौत और इसके बाद हुई 34 और बच्चों की मौत की घटना ने देश को हिला दिया था
सूचनाओं के आधार पर इनमें से अधिकांश बच्चों की मौत ऑक्सिजन की आपूर्ति बाधित होने से हुई बताया गया है कि आपूर्तिकर्ता को उसका पैसा ना मिलने पर आपूर्ति रोक दी गई थी जबकि उत्तर प्रदेश सरकार ने जापानी इनसेफ़ेलाइटिस को इन मौतों का कारण बताया

सरकार ने संचालित अस्पताल के तत्कालीन बाल रोग विशेषज्ञ ख़ान को इस लापरवाही का दोषी पाया गया, जिसके चलते उन्हें गिरफ्तार किया गया
खान ने पूरे मामले का संशोधन करते हुए बताया कि यह नरसंहार केवल 10% कमीशन के लिए हुआ था और इसे मानव निर्मित नरसंहार बताया
उन्होनें यह विश्वास दिलाया कि वो दोषियों को सजा दिलवाने के लिए इलाहाबाद उच्च न्यायालय से गुज़ारिश करेंगे और पीड़ितों को न्याय दिलाएंगे
खान अभी ज़मानत पर चल रहे हैं और आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि 13 अगस्त 2017 को योगी जी ने मुझसे कहा था कि “मैं तुझे देख लूंगा”
ऑक्सिजन की आपूर्ति के लिए ठेकेदार ने भुगतान के लिए मुख्यमंत्री योगी सहित 14 पत्र लिखे थे लेकिन उसका भी कोई फायदा नहीं हुआ

उनका कहना है कि उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव के स्तर के अधिकारी की जाँच के बाद भी दो साल बाद इन मौतों की ज़िम्मेदारी तय नहीं की गई है

इस त्रासदी के बाद उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कफील खान की निलबिंत कर दिया गया और उन्हें 8 महिने तक जेल मे रहना पड़ा। डॉ कफील खान (Dr Kafeel Khan)ने दावा किया है कि प्रमुख सचिव की जांच मैं उन्हें आरोपी से मुक्तकर दिया गया है। उप्र प्रमुख सचिव (स्टाफ़ एवं राजिस्ट्रेशन)हिमांशु कुमार ने इस मामले की जांच की थी।

डॉ खान ने ये आरोप लगाया सरकार पर की उन्हें बाली का बकरा बना कर उन्हें फसाया गया और दोषियों को सरकार ने बचाया ,खान ने यहा तक बताया कि जेल मे रहने के दौरान मेरी पत्नी को कानून लागू करने वालो ने प्रताड़ित किया। साथ ही डॉक्टर खान ने बताया कि मेरे साथ 8 लोग ओर पीड़ित हुए मेरे भाई को चार गोलिया मार कर घायल किया गया।
Dr Kafeel khan ने बताया कि अब मेरी लड़ाई उन 70 बच्चों को न्याय दिलाने के लिए है जो मारे गए। ओर दोषियों को बचा लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here